सेहरी और इफ्तार में क्या खाये और क्या न खाये : जानिए यहाँ

जैसा की आप सभी जानते है की रमजान का पाक महीना चल रहा है। और सभी मुसलमान वर्ग के लोग इस पाक महीने को बड़े ही उल्लास से मनाते है इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार 2020 में 25 मार्च से शुरू हो चूका है | रमजान के पूरे महीने रोजे रखने के बाद अंतिम दिन ईद मनाई जाती है इसे मीठी ईद या ईद-उल-फ़ित्र भी कहा जाता है| 

Eid Mubarak

रोजे के समय कुछ भी नहीं खाया पीया नहीं जाता है वैसे तो सेहरी में अगर कुछ भी कहने का मन न हो तो सिर्फ एक खजूर से भी सेहरी की जा सकती है परन्तु सेहरी में खाने से ज्यादा पानी भी खूब पीना पिने की सलाह दी जाती है 

Drink Water

डॉक्टरों का कहना है की रोजेदारों को रोजे के दौरान पूरी नींद न लेने से आप बीमार भी हो सकते हो । रोजेदारों को खान पान से साथ साथ गैर जरुरी चीजों का भी ध्यान रखना चाहिए।

Sleeping Women

रमजान में खान-पान कैसा होना चाहिए।

  • सेहरी के समय अंडा, आते की रोटी या पराठा, ताजे फल आदि खाने से सेहत तंदरुस्त रहती है.
  • हमेशा ध्यान रखे की सेहरी के समय कॉफी या सोडा नहीं पीना चाहिए.
  • सेहरी में पिज़्ज़ा, कबाब या चाऊमीन जैसे फ़ास्ट फ़ूड नहीं होने चाहिए. ये आपकी सेहत पर बुरा असर डालते हैं.
  • रोजे में इफ्तार के दौरान खजूर हमेशा खाना चाहिए.क्योकि खजूर सेहत के लिए फायदेमंद होता है. और खजूर में आयरन होता है, जिससे शरीर को ऊर्जा मिलती है.
  • अगर रमजान के दरमियान अपच की समस्या आती है तो इसे पचाने के लिए फाइबरयुक्त चीजें खानी चाहिए.
  • इफ्तार के समय खाने खाते समय कम से कम पानी पीना चाहिए, क्योंकि ज्यादा पानी पीने से खाना पचता नहीं है. जो शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकता है.
  •  
Ramadan Foods of Eggs & Fruits

 

खजूर के फायदे जानकर आप भी खजूर खाने के शौकीन हो जायेगे

Dates Benefits: हड्डियां होंगी मजबूत होती है , त्वचा निख्रिरति है और जीवन तनाव मुक्त रहता है खजूर के अनेक फायदे हैं.

रमजान माह का ज्यों-ज्यों एक-एक दिन बीतता जाता है . उमस भरी भीषण गर्मी के कारण रोजेदारों को परेशानी होने लगती है है तो गर्मी से राहत देने के लिए बर्फ, नींबू के साथ तरबूज व खरबूजा इत्यादि का सेवन करना चाहिए.

Ice with Water Melon

इसी तरह की रोचक जानकारी के लिए बने रहिए DigitalHindiNews के साथ

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *